Home And Family

भीख मांगता देश का भविष्य

By YaariDosti
  • Aug 17, 2016
  • 1681 views

हम आप अमूमन ही अपनी ऐ/सी गाडियो मैं बैठे हुए उन बचको देखते हैं जो रेड लाइट पर या सड़क पर किसी न किसी कारण वश भीख मांगते हुए दिखाई देते है| क्या हमने कभी उनकी इस बेबसी के पीछेय का कारण सोचा है | क्या हमने कभी यह सोचने की रत्ती भर भी कोशिश की है की अगर इसकी जगह मेरा अपना बच्चा भी हो सकता है | उस मासूम धुप में झूझती ज़िन्दगी की रोज़ मर्रा की जदोजहद के पीछे बहुत लंबी कोई न कोई कहानी छुपी होती है जिसमे से यह कुछ कारण हो सकते है |

 

१. ट्रेनों में से अगवा किये हुए बच्चे

२. गरीब माँ बाप द्वारा चाँद पैसो के लालच में बेच दिए गए बच्चे

३,जितने हाथ उतने पैसे वाली पद्धति पर चलने वाले गाँव के बेघर किसानों के बच्चे

४. घर से भागे हुए बच्चे

 

और भी इन सब के अलावा तमाम कारण हो सकते है जिससे इन बच्चो का अनकहा अनसुना सा नाता है | ५-१० रु देकर हम रेड लीग पर उन्हें निकल जाते है और हम सोचते है की हमने बहुत बड़ा कोई ना कोई काम करा है | जो की मैं कहूंगा कुछ हद्द ठीक भी है क्योंकि हम अपने खुद के लाइफस्टाइल मैं इतने व्यस्त ही की हम समय का बहाना लेकर अपना पल्ला झाड़ लेते है |

 

मैं आप सब पढ़े लिखे लोगो से बस यह ही एक चीज़ पूछना चाहता हूँ की कभी आपने किसी अनाथ आश्रम मैं जाकर इन बच्चो को पढ़ाने की कोशिश की या इनके लिए कभी कोई कपडे या भोजन सामग्री की व्यावस्था की नहीं ना |

 

 

अपने आप से पूछिये की अगर आपको कभी कोई इस तरीके से बचपन मैं ट्रीट करता तो आपके ऊपर किया गुज़रती | हमें जो मिला, आराम, पढ़ने का मौका , दोस्त बनाने का मौका, घर  बनाने का मौका, बड़ी गाड़िया लेने का मौका क्या हमें इसके लिए भगवान  का शुक्रिया  नहीं करना चाहिए |

 

किसी महान पुरुष ने यह भी कहा है की भगवान् खुद इंसान मैं है और बच्चे भगवान् का रूप होते है तो क्या हम इन बच्चो के लिए एक छोटा सा कदम उठा सकते है |

अगर हाँ तो नीचे इस लिंक पर क्लिक करें और भरोसा दिलाये खुद को और उन बच्चो की आप उनके साथ हैं | भरोसा एक न जी ओ ही नहीं बल्कि एक एहसास है उस प्रयास का जिसे हमारे जैसे ही कुछ लोगो ने उठाया और दृढ़ संकल्प किया की इस दिशा मैं काम करेंगे और देश को एक महान देश बनाने मैं सहयोग करेंगे.

 

http://bit.ly/2bzIu46

 

 

related post