Innovation

जानिए मौत के बाद क्या होता हैं

By Babita Sharma
  • Sep 16, 2016
  • 2911 views

मृत्यु जीवन का आखरी सच हैं. सब को मरना हैं. लेकिन इस जीवन काल में हम कभी भी यह नहीं जान सकते हैं की मौत के बाद क्या होता हैं? What Happens After Death? या शायद जान सकते हैं. कुछ हद तक. सबसे बड़े चिकित्सा अध्ययन में वैज्ञानिकोने मौत से नजदीकी अनुभव (Near death Experiences) और शरीर के बहार का अनुभव(Out of body Experiences) होने की खोज की हैं. 

 

 

जिसमे उन्होंने साबित किया हैं की इन्सान के मृत्यु के बाद उसका दिमाग पूरी बंद हो जाता हैं लेकिन तब भी उसके अन्दर की चेतना और जागृतता जारी रहती हैं. वैज्ञानिकोने 4 साल तक 2000 जितने लोगो की जांच की हैं. उन्होंने देखा की इनमे से 40% लोग ऐसे थे जो मर चुके थे और थोड़े समय के बाद इनका दिल फिर से धडकने लगा था. इस जीवन और मृत्यु के समय के दौरान लोगोने किसी तरह की जागृतता अनुभव करने का वर्णन किया हैं.

कई लोगोने ने अपने  शरीर को पूरी तरह से  छोड़ने के बाद खुद के ही शरीर को रूम के किसी एक कोने से देख सकने का का अनुभव किया. उन्होंने अनुभव किया की वे रूम में उनके शरीर से थोड़ी ऊंचाई पर स्थित हैं और डॉक्टर्स उनका ईलाज कर रहे हैं. वे लोग अपने आप को देख सकते थे.

 

इलाज के वक्त कुछ लोगोने 3-5 मिनिट तक मर चुके होने के बावजूद उस वक्त के दौरान उस रूम में होती हुई प्रत्येक क्रियाओं का वर्णन किया. उसमे उन्होंने नर्सिग स्टाफ के लोगो की क्रियाओं का वर्णन किया और मशीनों की आवाजे सुनी. ज्यादातर किस्सों में दिल धडकना बंद हो जाने के बाद 20-30 सेकंड के अंदर दिमाग काम करना बंद कर देता हैं. लेकिन इन मामलों में दिल धडकना बंद हो जाने के 3-5 मिनिट तक वहाँ पर शरीर में जागृतता मौजूद थी.

 

 

कुछ लोगोने असामान्य रूप से शांति की भावना का अनुभव किया तो कुछ लोगोने समय बहुत धीरे से चलने का या बहुत ही तेजी से चलने का अनुभव किया. कुछ लोगोने सूरज के जैसी सुनहरे रंग की बहुत चमकदार रोशनी को देखने की बात कही. कुछ लोगोने किसी अंजान डर का अनुभव किया तो कुछ लोगोने खुद को गहरे पानी में डूबने का या गहराइ में घसीटे जाने का अनुभव किया. कुछ लोगो को चमकदार रौशनी की सुरंग दिखती हैं जिसमे वे प्रकाश की ओर तेजी से जाने लगते हैं.

69% मामलों में लोग अपने आसपास एक असामान्य प्यार की मौजोदगी होने का अनुभव करते हैं. वहाँ पर उन्हें कुछ इन्सान के आकार के रोशनी से भरपूर कुछ प्राणी दिखते हैं, कईयों का मानना हैं की यह प्राणी उनके मरे हुए प्रियजन थे. कुछ लोग ऐसी जगह पर पहुँच जाते हैं जहाँ पर उन्हें बहुत सारा प्यार और ख़ुशी महसूस होती हैं. उन्हें पृथ्वी के जीवन से यहाँ का जीवन ज्यादा असली लगता हैं. 

लाइव टीवी पर रेप की धमकी-यह है पाक

उनको लगता हैं की मानवशरीर वाला जीवन एक सपना था लेकिन यह सच्चाई हैं. कुछ लोग भगवान से मिलकर वापस आने की बात करते हैं. कुछ लोगो का कहना हैं की उनको दिखनेवाले रोशनीवाले प्राणी उनसे कहाँ हैं की तुम्हारा अभी यहाँ पर आने का वक़्त नहीं हुआ हैं. तुम्हे अभी बहुत काम करने बाकि हैं इसलिए तुम्हे वापस जाना पड़ेगा. कुछ लोग भविष्य की झलक देखने का दावा करते हैं तो कुछ लोग उन्हें असीमित ज्ञान प्राप्त कर लेने का दावा करते हैं.

 

 

वैसे वैज्ञानिक अभी इस विषय पर पूरी तरह से सही निष्कष तक नहीं पहुँच पाए हैं. कुछ वैज्ञानिकों का दावा हैं की ऐसे अनुभव लोगों के भ्रम भी हो सकते हैं या फिर दिमाग के अन्दर होती कोई केमिकल प्रक्रियाओं का परिणाम हो सकते हैं. लेकिन मौत से नजदीकी अनुभव (Near-death Experiences) करनेवाले लोग उन्होंने जो देखा उस पर पूरा भरोसा रखते हैं. सच्चाई चाहें जो भी हो लेकिन विज्ञान एक न एक दिन इस विषय पर से पर्दा जरुर उठाएगा. हमे शायद थोडा इंतजार करना पड़ेगा.

related post