Hindi Stories

एक जवान की दास्ताँ - दीपिका पदुकोने भी रो पड़ी

By YaariDosti
  • Oct 04, 2016
  • 5430 views

आप सबने आज कल चल रहे डिबेट्स देखे होंगे किसी चैनल पर लड़ाई की वक़ालत है तो किसी चैनल पर कुछ और लेकिन अगर हम जवान के नज़रिये से सोचें तो उसके लिए तो हर दिन ही एक लड़ाई है | वह तो तैयार मुस्तैद सिर्फ इसलिए खड़ा रहता है की उसके १२५ करोड़ भाई बहिन माताए बचे शान से जी सकें | पिक्चर देखने जा सके , पॉपकॉर्न खा सके , शांत रह सके , लॉन्ग ड्राइव्स कर सके | लेकिन क्या आप सब ने यह कभी सोचा है की वह अपनी ड्यूटी के आवाज़ मैं क्या खोता है |

 

 

 

 

 

वह अपनी जिंदगी खोता है उसी दिन जिस दिन वह फ़ौज मैं भर्ती होता है | हमारे लिए अगर कोई कहे तो हम गाँव मैं जाना नहीं पसंद करते क्योंकि वाहा मूवीज, लॉन्ग ड्राइव्स नहीं है लेकिन अगर आप जवान का देखे तो उसके पास तो यह सब उसी उम्र मैं छिन्न जाता है जब वह भर्ती होता है आर्मी मैं | एक जीविका के लिए नहीं , परंतु एक पैशन के लिए , एक जज़्बे के लिए , उस जज़्बे के लिए जिससे वह अपने सीने मैं भरे बढ़ता है आगे दुश्मन से लड़ता है और जीतता है या फिर चला आता है अपनी माँ की कोक मैं सोने तिरंगे की चादर ओढ़े |

 

 

 

 

वह उन दोस्तों को शहीद होते देखता है जिनके साथ उसने हॉस्टल मैं अपील गुज़ारे थे लेकिन उसे आसूं बहाने की इज़ाज़त नहीं | सीने मैं गुबार भरे नतमस्तक हो सर झुका कर वह अपने उस दोस्त को सलाम करता है लेकिन आसूं नहीं बहा सकता | यह है मेरे देश का जवान जो जीता देश के लये है और मरता देश के लिए है |

ऐसे ही जवानो के साथ बिठाये हुए बॉलीवुड एक्टर्स के कुछ हसीं पल हम नीचे दिए गए वीडियोस मैं शेयर कर रहे है |

 

 

 

 

 

 

 

 

related post